लेकिन दो कोई अमीर नही बनता, जरूरी नही की अगर आप आज जीत रहे हो, तो आप हमेसा जीतोगे ही, Satta Matka Game में हारने के चांसेस जितने के चांसेस से 10 गुना ज्यादा होते है। इतना रिस्क लेकर अपने मेहनत की कमायीं को सोच समझ के ही निवेश कीजिये।

भारत में खेलों का जूनून तो प्राचीनकाल से ही सर चढ़ कर बोल रहा है। यहाँ पर खेलों के बिना तो हम अपने जीवनकाल की कल्पना भी नहीं कर सकते है।


भारत में अनेकों प्रकार के खेल है। जिनमें कईं खेल तो पूर्ण रूप से सुरक्षित व् कानूनी रूप से सही है। किन्तु कईं ऐसे भी खेल है, जो की क़ानून की दृष्टि से गैर व असुरक्षित है। इसलिए इस प्रकार के खेल क़ानून की नजरों से बचकर खेला जाता है।

ऐसे खेलों के बारे में रोचक बात यह है कि, गैर-कानूनी होने के बावजूद ये खेल भारत के साथ-साथ पूरे विश्व में बहुत ही बड़े स्तर पर खेला जाता है।

तो अगर आप भी सट्टा मटका (सटका मटका) खेल के बारे में विस्तार से जानकारी लेना चाहते है तो इस लेख को पूरा पढ़े। इस लेख में आपको सट्टा मटका (सटका मटका)) खेल के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त होगी। तो चलिए शुरू करते है
play bazaar What is Satta Matta Matka in Hindi



Satta Matta Matka in Hindi : सट्टा मटका (सटका मटका) , यह एक प्रकार का जुआ होता है। सीधे शब्दों में आप इसे जुआ का राजा भी कह सकते है। यह जुआ एक बहुत ही विशाल पैमाने पर फैला हुआ है और खेला भी जाता है।

जानकारी के लिए आपको पहले ही बता दूँ कि  सट्टा मटका (सटका मटका) भारत में पूर्ण रूप से गैर-कानूनी है।  इसके बावजूद भी इसका कार्य क्षेत्र भारत में बहुत ही विशाल पैमाने पर फैला हुआ है।

सट्टा मटका (सटका मटका) जुआ के गैर-कानूनी खेल होने के कारण यह खेल कानूनी की निगाहों से पूरी तरह से बचकर खेला जाता है। सट्टा मटका (सटका मटका) एक खतरनाक खेल है और इस खेल में बहुत अधिक जोखिम है।

लेकिन इस खेल में जोख़िम से ज्यादा लाभ होने के कारण लोग इस खेल की तरफ आकर्षित होते है। प्राचीन काल में अधिकांश लोग सटका मटका खेल को खेलते थे।

इस खेल को पुरुष ही नहीं बल्कि स्त्रियां और गृहणियां भी खेलती थी और सट्टा मटका (सटका मटका) (Satta Matka) खेल पर पैसे लगाती थी।

सट्टा मटका (सटका मटका) खेल की शुरुआत कब हुई : When Did The Game Satka Matka Begin
Satta Matta Matka in Hindi : सट्टा मटका (सटका मटका) कोई नया खेल नहीं है। बल्कि यह एक बहुत ही प्राचीन खेल है, जो कि भारत की स्वतंत्रता से पहले से चला आ रहा है।

प्राचीनकाल में सटका मटका खेल पारम्परिक तरीके से खेला जाता था। लेकिन आज 21वीं सदी के समय में तकनीकी काल है।

जहाँ पर सभी कार्य अपने फोन व कम्प्यूटर के माध्यम से ही पूर्ण हो जाता है। इसी प्रकार से सटका मटका खेल भी आज के समय में सबसे अधिक ऑनलाइन ही खेला जाता है। प्राचीन काल में सटका मटका खेल ऑनलाइन नहीं खेला जाता था।

उस समय एक मटके के अंदर कईं पर्चियां डाली जाती थी और उसमें से एक पर्ची निकाल कर उसका नंबर निकला जाता था। तो कुछ इस प्रकार से प्राचीन काल में पारम्परिक तरीके से सट्टा मटका (सटका मटका) खेल खेला जाता था।


खेल में मटके का प्रयोग होने के कारण इस खेल का नाम सटका मटका रखा गया था। शुरुआत के समय में सट्टा, कॉटन के दाम पर खेला जाता था।

यह न्यूयॉर्क कॉटन एक्सचेंज से टेलीप्रिंटर के जरिए बॉम्बे कॉटन एक्सचेंज भेजा जाता था। उस समय में कॉटन के शुरु होने और बंद होने के दाम पर सट्टा खेला जाता था।

सट्टा मटका (सटका मटका) खेल 90 के दशक में बहुत ही अधिक लोकप्रिय था। लेकिन आने वाले समय में धीरे-धीरे सट्टा मटका (सटका मटका) खेल की लोकप्रियता कम हो गई। इस खेल की लोकप्रियता कम होने के कईं कारण थे।

Advertisement